प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय कर रही है ऑनलाइन जागरूक

  • लॉक डाउन का समय स्वयं को सशक्त बनाने में करें उपयोग

  • कोरोना संकट से पार पाने के लिए परमात्मा के संकेतों को समझकर अमल में लाने की आवश्यकता

  • करूणा भाई ने कहा – ऑनलाइन आध्यात्मिक कार्यक्रम को समाज के सभी वर्गों तक पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है

ब्रह्माकुमार करूणा भाई, मल्टी मीडिया चीफ, ब्रह्माकुमारी

नवयुग टाइम्स, संवादाता।
12 अप्रैल, आबू रोड। विश्वव्यापी महामारी कोरोना संक्रमण ने पूरे विश्व को बंदिशों में रहने के लिए विवश कर दिया है। इसके चलते धार्मिक, व्यावसायिक व सामाजिक संस्थान अब नियमित रूप से कार्य नहीं कर पा रहे हैं। पिता परमात्मा की पूजा-अर्चना एवं साधना करने के सभी स्थान बंद हैं। इस संकट का कारण मनुष्यों की अज्ञान निंद्रा और प्रकृति एवं मानवीय मूल्यों के विपरीत किए गए आचारण से हुआ है। इससे पार पाने और स्वयं को बचाने के लिए परमपिता परमात्मा के संकेतों को समझने की आवश्यकता है। ब्रह्माकुमारी संस्थान के मल्टी मीडिया के अध्यक्ष ब्रह्माकुमार करूणा भाई ने बताया कि ऐसे विषम समय में ब्रह्माकुमारी संस्था की ओर से समस्त मानव जाति के कल्याण के लिए ऑनलाइन आध्यात्मिक कार्यक्रम को सभी तक पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है। संसार परिवर्तन के समय को समझकर अपने विचारों और कार्य-व्यवहार में परिवर्तन लाएं। इसी कड़ी में ब्रह्माकुमारी संस्थान मनुष्यों को घर बैठे सहज राजयोग मेडिटेशन को समझाने का विश्व स्तरीय प्रयास कर रहा है। हमारी आप सबसे यही विनम्र प्रार्थना है कि स्व: कल्याण और जन कल्याण के लिए इस कार्य को सीखने और समझने का हर संभव प्रयास करें। आज जब पूरे देश में लॉक डाउन है तो हमें इस समय को व्यर्थ में न गंवाकर परमात्मा के सत्य स्वरूप को समझने का प्रयास करें और आने वाले समय के लिए स्वयं को तैयार करें। जिससे की आप अपना और दूसरों का भी जीवन सार्थक कर सकें।
www.brahmakumaris.ooo
brahmakumaris/live
www.youtube.com
www.facebook.com/

Check Also

त्यौहारों को आध्यात्मिक रूप से मनाने का लिया संकल्प

🔊 Listen to this मिसाल/गुलमोहर सेवाकेंद्र पर मनाई गई आध्यात्मिक राखी कोरोना ने बदला त्यौहार …

Navyug Times